जिले के बारे में

गोपालगंज जिला की स्थापना २ अक्टूबर १९७३ को किया गया। पहले यह सारण जिला का एक छोटा शहर हुआ करता था जो कि १८७५ में अनुमंडल बना। जिला मुख्यालय गोपालगंज शहर में अवस्थित है। गोपालगंज जिला बिहार राज्य के पश्चिमोत्तर छोर पर एवं भौगोलिक दृष्टि से 83.54° – 85.56° अक्षांश एवं 26.12° – 26.39° देशान्तर के मध्य अवस्थित है। गोपालगंज जिला उत्तर में चम्पारण जिला एवं गंडक नदी, दक्षिण में सिवान जिला एवं पश्चिमोत्तर में उत्तर प्रदेश राज्य के देवरिया जिला से घिरा हुआ है। गंडक नदी की सहायक नदियाँ झरहि, खनवा, दाहा, धनही इत्यादि हैं। इस वजह से इस ज़िले की भूमि उपजाऊ एवं खेती करने योग्य है। साथ ही यह सिंचाई का प्रमुख श्रोत है। यह नदी यहाँ के लोगों के समृद्धि का मुख्य कारक है, साथ ही इस जिला को महत्वपूर्ण एवं अलग पहचान दिलाता है। गंडक नदी अच्छी गुणवत्ता की मिट्टी नेपाल से लेकर आती है जो कि इस जिला की अर्थव्यवस्था को प्रभावित करने में मुख्य किरदार निभाता है।